Header Ads Widget

Responsive Advertisement

हिमाचल में AAP का रोड शो:केजरीवाल बोले- हमें राजनीति नहीं आती पर देशभक्ति आती है; भगवंत ने कहा- झाड़ू साफ करेगा राजनीति की गंदगी

 

हिमाचल में AAP का रोड शो:केजरीवाल बोले- हमें राजनीति नहीं आती पर देशभक्ति आती है; भगवंत ने कहा- झाड़ू साफ करेगा राजनीति की गंदगी

                रोड शो में उत्साहित लोगों को शांत रहकर आगे बढ़ने के लिए कहते केजरीवाल।
 

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृह जिले में विक्टोरिया पुल से पड्डल मैदान तक आम आदमी पार्टी का रोड शो शुरू हो गया है। AAP के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब के CM भगवंत मान के नेतृत्व में देशभक्ति के गीतों के साथ रोड शो आगे बढ़ रहा है। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता तिरंगा हाथ में लिए उनके साथ चल रहे हैं।

रोड शो को 3:00 बजे पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने संबोधित किया। मान ने कहा कि हिमाचल में आप लोगों से मिलने आए हैं। तब सोचा था कि गली भर भीड़ ही होगी पर यहां आकर आप लोगों ने गद्गद कर दिया। अंग्रेजों ने यहां 200 साल की गुलामी दी। भाजपा और कांग्रेस ने हमें पांच-पांच साल लूटा और टुकड़ों में गुलामी दी है। हर बार वही भाषण वही वादे नया कुछ नहीं। पता था कि पांच साल बाद तो बारी अपने आप आ जाएगी। इन्होंने लूटने के सिवा कोई काम नहीं कया।

 

भगवान ने अपना झाड़ू भेजा है राजनीति साफ करने के लिए

     
                         आम आदमी पार्टी की रैली में शामिल होने के लिए मंडी में पहुंचे लोग।

मान ने कहा कि अब भगवान ने अपना झाड़ू भेजा है राजनीति की सफाई करने के लिए। इस बार अपने आप को वोट दें, अच्छी शिक्षा, अच्छी सेहत और बिजली-पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं के लिए वोट दें। पंजाब का रिजल्ट आने के बाद हर तीसरे दिन हिमाचल के भाजपा और कांग्रेस के नेताओं का बयान आ जाता है कि यहां तीसरी पार्टी नहीं आ सकती। लेकिन आदमी वही बोलता है जिसका डर रहता है। भगवंत ने कहा कि पंजाब में आप लोगों की रिश्तेदारियां हैं। 20 दिन हुए है शपथ लिए, आप पूछ लेना कि वहां भ्रष्टाचार कैसे कम हुआ है। आम आदमी पार्टी ने आम आदमी को विधानसभा और संसद में पहुंचाया

केजरीवाल ने बदलाव के लिए मांगा एक मौका

वहीं इससे पहले अरविंद केजरीवाल लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश में आकर अच्छा लगा रहा है। इतने शानदार स्वागत के लिए शुक्रिया। रोड शो में भारत का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ज्यादा नजर आ रहा है। आम आदमी पार्टी का झंडा भी लोगों के हाथ में है। वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान भी परछाई की तरह आप सुप्रीमो के साथ हैं।

उन्होंने कहा कि राजनीति करनी नहीं आती, हमें देशभक्ति आती है। पहले दिल्ली में बदलाव किया, पंजाब में कर रहे हैं और अब हिमाचल में भी बदलाव करेंगे। हमें एक मौका दे दो। आपने दूसरे दलों को भी देख लिया एक बार हमें भी देख लो, आपको अपने आप फर्क दिख जाएगा।

खास बात यह है कि AAP की रैली में लोग झाड़ू के झंडे के बजाय तिरंगा हाथ में लिए विक्योरिया पुल की ओर बढ़ रहे हैं। इसे भाजपा के राष्ट्रवाद के तोड़ के रूप में देखा जा रहा है। पारंपरिक परिधानों व बाध्य यंत्रों के साथ पहुंच रहे लोग काफी उत्साहित है। इसमें लगभग हर आयु वर्ग का व्यक्ति शामिल हो रहा है। केजरीवाल और भगवंत मान के मंडी पहुंचते ही विक्टोरिया पुल से रोड शो शुरू होगा, जो करीब एक किलोमीटर बाद यानी पड्‌डल मैदान में खत्म होगा।

आम आदमी पार्टी मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृह जिला मंडी से आगामी विधानसभा और MC शिमला के चुनाव का बिगुल बजाएंगी। AAP पार्टी हिमाचल को तीसरा विकल्प देने के दावे कर रही हैं। पंजाब के नतीजे आने के बाद बड़ी संख्या में लोग AAP पार्टी से जुड़ रहे हैं। कांग्रेस भाजपा के कई मायूस नेता भी निरंतर पार्टी से जुड़ रहे है।

कांग्रेस-भाजपा से कई चेहरे छिटकने की चर्चा

 

अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान के दिल्ली पहुंचने से पहले हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव दीपक शर्मा और देश में सबसे कम उम्र में पंचायत प्रधान बनने वाली जबना चौहान AAP का दामन थाम चुके हैं। वहीं रोड शो शुरू होने के बाद कांग्रेस-भजाप के कई बड़े चेहरें के छिटकने की चर्चा है। चर्चा इस बात की भी है कि जयराम कैबिनेट से एक मंत्री भी CM चेहरा बनाने की शर्त पर अरविंद केजरीवाल के संपर्क में हैं।

वहीं, हाशिए पर चल रहे मंडी के अनिल शर्मा, कुल्लू से महेश्वर सिंह, अर्की से गोविंद शर्मा, बंजार से पूर्व मंत्री खीमी राम, जुब्बल कोटखाई से चेतन बरागटा और कांग्रेस के मेजर विजय सिंह मनकोटिया के भी AAP में जुड़ने की चर्चा हैं। इनमें से कौन नेता AAP में आज जुड़ता है या सियासी रूख का इंतजार करता है, यह दोपहर तक स्पष्ट हो जाएगा।

आज का रोड शो तय करेगा AAP का भविष्य

AAP पार्टी हिमाचल में तीसरे विकल्प के तौर पर उभरना चाह रही है। हालांकि अब तक तीसरे विकल्प के तौर पर कई दलों ने उभरने की कोशिश की है, लेकिन कोई भी दल पहाड़ की चढ़ाई नहीं चढ़ पाया है। अब देखना होगा कि AAP का झाड़ू पहाड़ चढ़ने में कितना कामयाब रहता है। आज की रैली से AAP की दशा और दिशा लगभग तय हो जाएगी।

गारंटियों की झड़ी लगा सकते हैं केजरीवाल

पहाड़ की चढ़ाई के लिए अरविंद केजरीवाल पंजाब की तर्ज पर हिमाचल में भी "गारंटियों का दांव' खेल सकते हैं। दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन लंबे समय से हिमाचल के राजनीतिक गणित को समझने और लोगों की नब्ज टटोलने में लगे हुए हैं। इस दौरान उन्होंने समझा है कि प्रदेश की जनता आखिर क्या चाह रही है।

 

 

ये भी पढ़ें-

फैसला; विधानसभा में रखेंगे प्रस्ताव; मंत्रियों के विभागों के बंटवारे पर सस्पेंस

 

 

 

Post a Comment

0 Comments